crossorigin="anonymous"> ईशान किशन- Ishan Kishan Biography inHindi - Cricket Updates

ईशान किशन- Ishan Kishan Biography inHindi

ईशान किशन |यह कहानी है एक साधारण से परिवार में जन्मे एक बिहारी लड़के ईशान किशन की | ईशान किशन का जन्म 18 जुलाई 1998 ईस्वी में बिहारी का नवादा ज़िले में हुआ था | उनके पिता प्रणव पाण्डेय बिल्डर का काम करते थे और उनकी माता एक हाउस वाइफ है | ईशान किशन के एक बड़े भाई हैं जिनका नाम राज किशन है, ईशान किशन को उनकी मंज़िल तक पहुंचाने में उनके बड़े भाई का बहुत बड़ा योगदान है | इशान ने अपनी शुरुवाती शिक्षा दिल्ली पब्लिक स्कूल से की | इसके बाद कॉमर्स कॉलेज ऑफ़ पटना से बी. ए की पढ़ाई पूरी की | ईशान किशन बचपन से ही एक प्रतिभावान खिलाडी थे |

वह हर मैच और हर टूर्नामेंट में हमेशा अच्छा प्रदर्शन करते थे | लकिन उन दिनों राजनितिक मुद्दों से जूझ रहा बिहार क्रिकेट संघ को BCCI से मान्यता नहीं मिलने के कारण उन्हें कोई आगे का रास्ता नहीं दिख रहा था | ईशान किशन के साथी बताते हैं कि ईशान इन सभी चीज़ो की बिलकुल भी परवाह ना करते हुए सिर्फ अपने क्रिकेट खेलने पर फोकस किया |

IPL के 15वे सीज़न मे orange cap के दावेदार बल्लेबाज़

लेकिन जब उन्हे एहसास हुआ कि उनके आगे बढ़ने के लिए कोई रास्ता नहीं बचा है तो वह अपने सीनियर खिलाडी और कोच की सलाह से अपने पडोसी राज्य झारखण्ड से खेलने का निश्चय किया | वैसे तो किसी भी खिलाडी के लिए दूसरे राज्य से खेलना इतना आसान नहीं होता है, पर ईशान के अच्छे प्रदर्शन और लगातार मेहनत को देखते हुए उन्हें बहुत जल्द झारखण्ड टीम से रणजी खेलने का मौका मिल गया और उसी मौके का फायदा उठाते हुए ईशान ने 2015 के रणजी में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया |

संघर्षो से भरा जीवन

उस समय उनकी आयु अंडर 19 होने की वजह से उनका नाम इंडियन अंडर 19 टीम में भी आ गया और साथ में उन्हें इंडियन अंडर 19 टीम का कप्तान भी बनाया गया | अंडर 19 वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करने के बाद उनका नाम IPL के ओक्शन में आया और फिर गुजरात लाइन्स की टीम ने उन्हें खरीद लिया| परन्तु गुजरात लाइन्स की टीम में उन्हें ज़्यादा मौका नहीं मिला, फिर 2018 की नीलामी में उन्हें मुंबई इंडियन ने 6 करोड़ की भारी रकम दे कर उन्हें अपनी टीम में शामिल किया |

ईशान के घरेलू प्रदर्शन की बात करें तो रणजी ट्रॉफी में 6 नवंबर 2016 को झारखण्ड की तरफ से खेलते हुए दिल्ली के खिलाफ 273 रनो का सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर बनाया था और 2017 -2018 के रणजी सीजन में 484 रन बनाकर झारखण्ड की तरफ से सर्वाधिक स्कोर बनाने वाले खिलाडी बजी रहे हैं | और इसके बाद वह हर टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करते रहे | ईशान ने 2020 के आईपीएल सीजन में मुंबई इंडियन की तरफ से खेलते हुए पूरे टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा छक्के लगाए |

आईपीएल २०२२ के सबसे महंगे खिलाडी ईशान किशन

इसके बाद BCCI के चयनकर्ताओ की नज़र उन पर बानी रही और फिर उन्होंने 2021 के विजय हज़ारे टूर्नामेंट में पहले ही मैच में 173 रन बनाकर भारतीय टीम में शामिल होने की दावेदारी पेश की | और जब उन्हें इंडियन टीम में खेलने का मौका मिला, पहले ही मैच में अर्द्धशतक ठोक कर ईशान ने यह साबित कर दिया कि आप कहाँ से हैँ, यह मायने नहीं रखता है, बल्कि आपके सपने और आपकी क्षमता मायने रखती है | आईपीएल team

इशान किशन के बारे में 5 रोचक तथ्य ___

1. ईशान किशन के आइडल Ms dhoni और Adam Gilchrist हैँ |

2. ईशान किशन जब 2016 अंडर 19 वर्ल्ड कप खेल रहे थे तब फाइनल से पहले इनका और इनके पिताजी का पटना में रोड एक्सीडेंट हो गया था |

3. ईशान किशन का पूरा नाम ईशान प्रणव कुमार पाण्डेय है |

4. रणजी ट्रॉफी में झारखण्ड की ओर से सबसे बड़ा एकल स्कोर बनाने का रिकॉर्ड इशान किशन के नाम ही दर्ज है |

5. ईशान किशन पहले ऐसे बल्लेबाज़ बन चुके हैँ जिन्होंने ODI ओर T20 दोनों के डेब्यू में हाफ सेंचुरी लगायी है |

1 thought on “ईशान किशन- Ishan Kishan Biography inHindi”

Leave a Comment